कोरिया से अविनाश चंद्र की खबर

कोरिया/शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में पदस्थापना में हो रहे इस अनावश्यक विलम्ब के विरोध मे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला कोरिया ने आज मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर को ज्ञापन सौपा। परिषद ने कहा की प्रदेश मे नियमित शिक्षको की अवश्यकता लंबे समय से अनुभव की जाती रही है। शिक्षक भर्ती 2019 का विज्ञापन आने के पश्चात् आशा की एक किरण भी जगी थी, किंतु विज्ञापन के बाद 17 माह और चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन के बाद 8 महीने बीत जाने के उपरान्त भी पदस्थापना नहीं हो सकी है। जिसके वजह से सभी 14580 अभ्यर्थियों की चिंता बढ़ गई है।
अभाविप जिला संयोजक पिंकू राजवाड़े ने कहा की इस व्याख्याता भर्ती परीक्षा के परिणामों की वैधता 30 सितंबर को खत्म होने से पहले पदस्थापना क्यों नहीं की जा रही है? छत्तीसगढ़ के सभी स्कूलों में विषय विशेषज्ञ शिक्षकों की भारी कमी होने के कारण नियुक्ति शीघ्रातिशीघ्र की जानी चाहिए थी फिर भी पदस्थापना में इतना विलम्ब करना उचित नही हैं। नगर मंत्री महेंद्र प्रताप सिंह ने कहा की शिक्षक भर्ती के विषय पर ही आर्थिक संकट का बहाना क्यों, जबकि इसे पिछले सत्र के बजट में ही शासन द्वारा स्वीकृत किया जा चुका है। नियमित शिक्षकों को न लेकर समान वेतन पर ही संविदा भर्ती करना समझ से परे हैं।
शिक्षक-अभ्यर्थियों और विद्यार्थियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए शिक्षक भर्ती 2019 की पदस्थापना संबंधी इस प्रक्रिया को आगे न बढ़ाने पर परिषद 28 अगस्त को प्रदेश के सभी विकासखंड मे सांकेतिक धरना प्रदर्शन आन्दोलन हेतु बाध्य होगी।
ज्ञापन देते वक़्त मुख्य रूप से आकाश सिंह, रामरूप राजवाडे, राहुल पटवा, अभय यादव, अनिल राजवाड़े, तेज यादव, योगेश काशी, शिव शंकर सम्राट, उज्ज्वल सिंह, गुलशन साहू उपस्थित थे।

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here