अविनाश चंद्र की खबर.

कोरिया/चिरमिरी । कोरिया जिले में प्रोटोकॉल उल्लंघन का बड़ा मामला प्रकाश में आया है। दरअसल सरकारी कार्यक्रमों में इन दिनों लगातार कोरबा लोकसभा क्षेत्र के सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महन्त का नाम शामिल नहीं किये जाने पर अपनी गम्भीर आपत्ति दर्ज करते हुए चिरमिरी के पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने कलेक्टर कोरिया को पत्र लिखकर कोरिया जिले के शासकीय कार्यकर्मो में सांसद का नाम शामिल न कर, लगातार प्रोटोकॉल उल्लंघन करने वाले दोषी अधिकारियों को तत्काल निलम्बित करने की मांग की है। जिसकी जानकारी उन्होंने लोकसभा प्रशासन के सचिव एवं छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्य सचिव को भी देते हुए, उचित कार्यवाही की मांग की है।

अपने पत्र में पूर्व महापौर एवं जिला कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्री रेड्डी ने कहा है कि कोरिया जिले के शासकीय कार्यक्रमों में सांसद श्रीमती ज्योसना चरणदास महंत का नाम शामिल करने में लगातार लापरवाहीपूर्वक प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया जा रहा है। जो कि अत्यंत ही खेद एवं हम पार्टीजनों के लिए क्षोभ का विषय है। उन्होंने प्रशासन से सवाल किया है कि आखिर सांसद महोदया के साथ ऐसा दुस्साहस कैसे किया जा रहा है? क्या यह लोकतंत्र के त्रिस्तरीय शासन व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह नही है? यह हम सबके लिए, बेहद दुःख एवं असहनीय पीड़ा का विषय है।

श्री रेड्डी ने पत्र में आगे कहा है कि सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि आप जैसे एक संवेदनशील जिलाधिकारी के रहते ऐसा चूक लगातार क्यों हो रहा है? क्या कलेक्टर कार्यालय में बैठा कोई अधिकारी जानबूझकर, किसी षड्यंत्रपूर्वक ऐसा भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहा है जिससे कि हमारे नेताओं का आपस में टकराहट हो जाये? इस बात की जाँच कर यह सुनिश्चित किये जाने की आवश्यकता है कि दोषी अधिकारी निश्चित ही दण्डित हो तथा बार-बार हो रहे इस तरह के छलपूर्ण कार्यप्रणाली की निष्पक्ष जॉच कराई जानी चाहिये कि आखिरकार ये सब किसके इशारे पर हो रहा है?

श्री रेड्डी ने पत्र में आगे कहा है कि पहले अमृतधारा महोत्सव आयोजन के आमंत्रण कार्ड में और अब चिरमिरी नगर पालिक निगम में निदान 1100 के प्रचार – प्रसार के लिए जगह – जगह लगाये गए फैक्स में सांसद का नाम/फोटो छोड़ दिया गया है। इसके अलावा और भी कई ऐसे उदाहरण होगे, जिनकी जानकारी हमें नहीं है। यह न केवल प्रोटोकॉल उल्लंघन का विषय है बल्कि यह एक माननीय सांसद के विशेषाधिकार के हनन का भी मामला है। इसलिए अब भविष्य में कोरबा सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत के गरिमा का पूरा ध्यान रखा जाए क्योकि श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत हमारे सांसद के साथ – साथ हम सबकी अभिभावक भी है। श्री रेड्डी ने पत्र में कोरिया कलेक्टर एस. एन. राठौर को सम्बोधित करते हुए कहा है कि अविलम्ब इस संवेदनशील मामले में सुसंगत विधिसम्मत त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करे अन्यथा हम आंदोलन के लिए बाध्य होगें।

blitz hindiके साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करेअविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here