धीरज कुमार मौर्य की खबर


केल्हारी : चिकित्सक को धरती का भगवान कहा जाता है।पर कुछ ऐसे भी चिकित्सक हैं,जो सिर्फ अपना हाजिरी ही पकाते हैं।जिन्हें क्षेत्र के जनमानस से कोई सरोकार नही बल्कि उन्हें गर्त में भेजने में भी कोई कसर नही छोडते,बात प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र केल्हारी का है,

जहां दशकों से भी अधिक समय से डटे चिकित्साधिकारी डाॅ महेश सिंह की है।बुधवार को केल्हारी के बस्ती के एक दुकानदार कोरोना संक्रमित हुये,जिसे बैकुण्ठपुर कोविड अस्पताल रिफर किया जाना था।जिस पर एम्बुलेंस के कर्मचारियों ने मीडियाकर्मी के सामने ही किट देने से यह कहते हुये मना कर दिया कि एम्बुलेंस कंपनी किस बात का पैसा लेती है।इसके बाद दो स्वास्थय कर्मी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के घर भी गये,अवाश्यक जांच भी किये,इस दौरान स्वास्थय कर्मी बिना किट पहने दिखाई दिये, ईन्हीं स्वास्थय कर्मियों से समूचा केल्हारी क्षेत्र के जनमानस ईलाज करवाते हैं।हैरानी की बात तो यह है कि जब स्वास्थय कर्मियों को ही चिकित्साधिकारी द्वारा किट प्रदान कर सुरक्षित नही किया जाता तो इनसे ईलाज करवाने वाले समूचा केल्हारी क्षेत्र कैसे सुरक्षित रह सकता है।क्या समूचा केल्हारी को चिकित्साधिकारी,कोरोना संक्रमित बनाना चाहते हैं?आखिर केल्हारी क्षेत्र से चिकित्साधिकारी को क्या रंजिश हो गई,जबकि यही केल्हारी स्थित प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र में दशकों से भी अधिक समय से उक्त चिकित्साधिकारी पदस्थ है।

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here