(बस्सु)/ रफ़ीक अंसारी/.

कोरिया/पटना। लाखों खर्च कर पौधा लगा देखभाल करना भूल गए पंचायत प्रतिनिधि। पौधारोपण के बाद 5 साल तक पौधों की देख रेख करनी थी लेकिन पौधारोपण कराने के बाद पौधों की देखभाल करना भूल गए ग्राम पंचायत चिरगुड़ा के पंचायत प्रतिनिधि। पौधारोपण के नाम पर अब तक 387244 रूपए खर्च हो चुका है, पांच साल के भीतर कागजी घोड़ा दौडाकर 775312 रूपए आहरण कर लेंगे पंचायत प्रतिनिधि। ग्राम पंचायत चिरगुड़ा के दर्रीडांड़ तहसील कार्यालय के पास महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत 775312 रूपए की लागत से पौधारोपण कार्य स्वीकृत हुआ, पौधारोपण कार्य जून 2019 में ग्राम पंचायत चिरगुड़ा के द्वारा कराया गया। स्टीमेट के मुताबिक पौधा रोपण कराने के बाद 5 साल तक पौधों की देखभाल पंचायत को करनी थी लेकिन जरूरत के हिसाब से पौधों को पानी, खाद नहीं दिया गया जिसके कारण आधा से अधिक पौधे सूख कर नष्ट हो गए और जो बचे हैं वह भी इन दिनों पड़ रही तेज धूप के कारण पानी की कमी न मिलने से नष्ट हो सकते हैं इसके बाद भी पंचायत प्रतिनिधि ध्यान नहीं दे रहे हैं। इस तरह हुआ था कार्य उप तहसील पटना के सामने पौधारोपण का कार्य कराने के लिए पंचायत ने मटेरियल खरीदी के नाम पर 207582 रूपए एवं मजदूरी भूगतान के रूप में मनरेगा के पंजीकृत मजदूरों को मजदूरी भूगतान के नाम पर 48 मस्टर रोल भरकर 179662 रूपए खर्च किया गया शेष राशि 5 वर्षों के भीतर पौधों की देखभाल सुरक्षा और आवश्यक सुधार कार्य कराने के एवज में आहरित की जायेगी इस तरह से इतनी राशि खर्च होने के बाद भी पंचायत प्रतिनिधियों की लापरवाही के कारण लगाए गए पौधे समुचित रख रखाव के अभाव में पेड़ नहीं बन पा रहे हैं।

blitz hindiके साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करेअविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here