अविनाश चंद्र की खबर

कोरिया/मामले का सक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि पुलिस कन्ट्रोल रुम को दिनांक 29.032021 की सुबह सूचना मिली कि एक महिला का शव ग्राम खांडा मे शगुन गार्डन के पास खेत मे पडा है। पुलिस अधीक्षक महोदय चन्द्रमोहन सिंह (भा०पु०से0), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मघुलिका सिंह, उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल मामले की गंभीरता को देखते हुए मौके पर स्वयं उपस्थित आए तथा अज्ञात शव की पहचान एवं मामले की जांच हेतु आवश्यक दिशानिर्देश देकर अम्बिकापुर से मोबाईल फोरेसिक टीम, डाग स्क्वाड को बुलवाया गया। पुलिस डाग मृतिका के शव के पास से सूघते हुए ग्राम खांडा के ही एक घर मे जाकर संकेत दिया। उक्त घर मे उपस्थित महिला ने प्ररंभ मे लाश को चेहरे मे सूजन व चोट की वजह से पहचान नही सकी जिसे फिर से लाश को करीब से दिखाया गया तब वह पहचान कर बताई कि बताई कि लाश उसकी जेठानी मीराबाई की है और मीराबाई का पति रामरुप रात मे करीब 02.00 बजे उसके घर आया था और बताया था कि उसका उसकी पत्नी से झगडा हुआ है और वहीं सो गया था सुबह उठकर कहीं चला गया है। मृतिका मीराबाई का पति अपने ससुराल ग्राम हथवर मे मिला जिससे पूछताछ पर बताया कि अपनी पत्नी को खोजने ग्राम हथवर पत्नी के मायके आया था। और लगातार पुलिस को गुमराह कर रहा था। थाना प्रभारी पटना उप निरीक्षक सौरम कुमार द्विवेदी तथा थाना प्रभारी बैकुण्ठपुर निरीक्षक कमलाकांत शुक्ला के नेतृत्व मे दो टीम गठित कर मामले से जुड़े सभी साक्षियों से बारीकी से पूछताछ की जा रही थी। अन्य गवाहो के स्टेटमेंट से मृतिका के पति का स्टेटमेंट मैच नही कर रहा था उक्त आधार पर लगातार अभियुक्त से पूछताछ चल रही थी इसी दौरान अंततः अभियुक्त ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि इसकी पत्नी काम पर जाती थी देरी से आने के कारण तथा शराब पीने के कारण इसका हमेशा पत्नी से वाद विवाद होता रहता था घटना दिनांक को भी सुबह वाद विवाद हुआ था। इसकी पत्नी जब देर रात घर नहीं लौटी तब यह अपनी पत्नी को देखने के लिए जहां काम करने जाती थी वहां पर गया था परन्तु इसकी पत्नी घर जाने से इंकार कर दी इसी बात से आवेश मे आकर लकडी के डण्डे तथा पत्थर से मारपीट कर अपनी पत्नी की हत्या कर दिया। किसी को शक ना हो इसलिए हत्या करने के बाद साडी से शव को ढंक दिया और अपनी पत्नी को रिश्तेदारों के घर पता करने का नाटक कर रहा था। अभियुक्त रामरुप ने अपने मेमोरण्डम कथन में बताए गए स्थान घटना स्थल के पास छिपाकर रखा गया हत्या कारित करने मे प्रयुक्त लकड़ी के डण्डे का टुकडा , पत्थर तथा घटना के दौरान पहनी हुई टी शर्ट जिसमे खून जैसा दाग स्पष्ट दिखाई दे रहा है, को स्वयं के घर से निकालकर प्रस्तुत कर बरामद कराया। पुलिस ने अपराध क्रमांक 96/21 धारा 302 भा.द.वि. का प्रकरण पंजीकृत कर अभियुक्त को गिरफ्तार कर रिमाण्ड पर भेज दिया गया है। कोरिया पुलिस ने अंधे कत्ल की गुत्थी को 24 घण्टे के भीतर सुलझा लिया। उक्त कार्यवाही मे थाना प्रभारी पटना उप निरीक्षक सौरभ द्विवेदी थाना प्रभारी बैकुण्ठपुर कमलाकांत शुक्ला थाना पटना से स.उ.नि. लवांग सिंह, स.उ.नि. ओ.पी. दुबे, प्रधान आरक्षक अरुण बडेरिया आरक्षक गोपाल यादव, राजेश्वर साहू, समीर राय, कन्हैया लाल, लाल सिंह सराहनीय भूमिका रही.

blitz hindiके साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करेअविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here