। {बस्सु}रफीक अंसारी/कोरिया/पटना


खाते से निकले 194000 रूपए, शिकायत किए 5 महिना होने को है पैसा वापस नहीं मिला, शिकायत पर न तो पुलिस ध्यान दे रही है और न ही बैक के अधिकारी कर्मचारी, पिड़ित व्यक्ति बैंक का चक्कर काट काट कर परेशान है। शासकीय पशू चिकित्सालय पटना में ड्रेसर के पद पर पदस्थ भान सिंह मार्को ने बताया कि मेरा खाता भारतीय स्टेट बैंक बैकुन्ठपुर में संचालित है जिसमें से दिनांक 13 फरवरी को 80000 रूपए, 14 फरवरी को 80000 रूपए, 15 फरवरी को 34000 रूपए मेरे खाते से पैसा कट गया, बैंक से जानकारी लेने पर पता चला कि दिल्ली में किसी ने यह पैसा आहरण किया है, उस समय मैं सूरजपुर में मेरी ट्रेनिंग चल रही थी इसलिए सूरजपुर जिले के पुलिस अधिक्षक एवं भारतीय स्टेट बैंक बैकुन्ठपुर में शिकायत करते हुए पैसा वापस दिलाने की मांग किया, लेकिन शिकायत किए अब पांच महिना होने को है मुझे न तो पैसा वापस मिला और कब तक मिलेगा इस बात का पता नहीं चल सका है, जिससे लगता है कि पुलिस व बैंक के अधिकारी कर्मचारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। मेरी पत्नी बिमार है जिसके इलाज के लिए मुझे पैसों की सख्त आवष्यकता है इसलिए बैंक का चक्कर काट काट कर परेशान हूं। इस तरह से निकला ड्रेसर के खाते से पैसा ड्रेसर भान सिंह मार्को 9 फरवरी को सुरजपुर के पीएनबी के एटीएम से 7 हजार रूपए निकाला उसके बाद उसके खाते में 194875 रूपए षेश था, 13 फरवरी को किसी ने खाता नम्बर 33223624658 में 40 हजार रूपए मेरे खाते से ट्रान्सफर कर लिया और दिल्ली में एटीएम से 20 -20 हजार रूपए दो बार में आहरण किया, 14 फरवरी को फिर उसी तरह से खाता नम्बर 33223624658 में 40 हजार रूपए ट्रान्सफर कर लिया और दिल्ली के एटीएम से 20-20 हजार रूपए आहरण कर लिया, 15 फरवरी को उसी तरह से 14 हजार एवं 20 हजार रूपए दिल्ली के एटीएम से पैसा निकाल लिया।

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here