कोरिया से अविनाश चन्द्र की ख़बर

कोरिया/छत्तीसगढ़ पुलिस जहां अपने दायित्व और कर्तव्य का शतत निर्वहन कर रही है वही अपने दायित्व और कर्तव्यों के लिए 24 घंटे जनसेवा और समाज में शांति और अनुशासन बनाने के लिए अपनी खुशियों और इच्छाओं की परवाह किए बिना अपनी सेवाएं दे रहे हैं किंतु यह सोचने वाली बात है कि आखिर छत्तीसगढ़ पुलिस कर्मचारी भी एक इंसान हैं आखिर इनकी समस्याओं को सुनने और निराकरण करने वाला कौन है? आपको बता दें कि वर्तमान समय में जहां आज पूरा विश्व वैश्विक महामारी करोना संक्रमण से ग्रसित है ऐसे में छत्तीसगढ़ पुलिस का एक एक कर्मचारी 24 घंटे कर्तव्यनिष्ठ होकर अपनी सेवाएं दे रहा साथ ही समाज में शांति और सौहार्द बनाने के लिए अनेक सराहनीय कार्य किए जिसको लेकर सामाजिक संगठनों के साथ साथ अनेक बार पुलिस अधिकारियों के द्वारा भी पुलिस कर्मचारियों को सम्मानित करने के साथ-साथ पुलिस मनोबल बढ़ाने के लिए अनेक सराहनीय सम्मान से सम्मानित किया गया वर्तमान समय में छत्तीसगढ़ सरकार इन पुलिस कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ पुलिस कर्मचारियों के वेतन जहां एक तरफ से कटौती होनी शुरू हो गई है जहां पुलिस कर्मचारियों की वेतन बढ़ने थे वहीं पर उनके वेतन से कटौती चालू हो गई है जिससे पुलिस का मनोबल जहां एक प्रकार से गिर रहा है वहीं दूसरी ओर सप्ताहिक अवकाश को लेकर भी शासन और अधिकारियों ने अनेक दावे तो जरूर किए थे किंतु वर्तमान समय में वे सब खोखले नजर आ रहे हैं इसी के साथ छत्तीसगढ़ राज्य में पुलिस बल की भी कमी बताई जा रही है इसी के साथ कई प्रकार की मूलभूत सुविधाओं से भी पुलिस कर्मचारियों को पृथक रहना पड़ रहा है जिसको लेकर पुलिस विभाग के कुछ कर्मचारी अपनी बातों को मीडिया के सामने ऑफ द रिकॉर्ड में रखें वाकई यदि बात की जाए तो पुलिस कर्मचारियों के मिलने वाली सुविधाओं पर वर्तमान सरकार सुस्त दिखाई दे रही है ऐसे में पुलिस कर्मचारियों का मनोबल किस प्रकार से आगे बढ़ेगा यह सोचने वाली बात होगी

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here