अविनाश चंद्र की खबर

प्रशासनिक कार्यो के अलावा जरूरतमंदों की मदद के लिए लगातार सक्रिय, क्षेत्र के लिए बने मिसाल.


सोनहत। एक तरफ जहां क्षेत्र में कोरोना का संक्रमण फैल रहा है, लोग परेशान हैं छोटे तबके के लोग अपनी राशन सब्जी व अन्य जरूरतों के लिए जहां परेशान नजर आ रहे थे, वहीं इन सब अव्यवस्थाओं को दूर करने सोनहत एसडीएम प्रशांत कुशवाहा ने तहसीलदार अंकिता पटेल एवं राजस्व विभाग की टीम के साथ मोर्चा संभाल लिया है। आलम यह है कि सोनहत एसडीएम एवं उनकी टीम सुबह से लेकर रात के 10 से 11 बजे तक पूरे क्षेत्र में भ्रमण कर शासकीय कार्य के साथ साथ लोगों की मदद भी कर रहे हैं। अनुभाग सोनहत के राजस्व अमले ने स्वप्रेरणा के आधार पर कोरोना काल में जरूरतमंदों को निःशुल्क राशन सब्जी उपलब्ध कराने का जिम्मा उठाया है, जिसमें वर्तमान स्थिति तक लगभग 700 परिवार लाभान्वित हो चुके हैं।
जरूरतमंदों तक दवाइयों के साथ लोगों की अस्पतालीन मदद करना, शादी विवाह समारोह में भीड़ नियंत्रण एस डी एम अपने राजस्व अमले एवं पंचायत सचिवों के माध्यम से करवा रहे हैं।
बच्चों के कुपोषण को दूर करने हेतु मदद को सामने आए
एसडीएम सोनहत प्रशांत कुशवाहा सोनहत के महिला बाल विकास विभाग के प्रभारी परियोजना अधिकारी भी हैं। कोरोना काल में बच्चों में बढ़ते कुपोषण के स्तर को देखते हुए महिला बाल विकास विभाग के सुपरवाइजर और कार्यकर्ताओं के माध्यम से एस डी एम खुद ग्रामीण अंचलों तक पहुंच कर चिन्हित 358 कुपोषित बच्चों को प्रोटीनयुक्त पावडर एवं अन्य सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। वहीं कोरोना काल मे इस कार्य की क्षेत्र में जम कर सराहना भी हो रही है। लोगों व सामाजिक कार्यकर्ताओं का कहना है वास्तव में इस कार्य की जरूरत अभी थी, जिसे एस डी एम सोनहत व महिला बाल विकास विभाग की टीम ने कर दिखाया।


आपदा में बुजुर्गों के साथ बच्चों का भी ख्याल
एक ओर जहां आपदा के इस समय मे कई लोग अपनी जिम्मेदारी से भागते नजर आते हैं, वही एसडीएम सोनहत द्वारा जहां पहले बुजुर्गों का अधिक से अधिक टीकाकरण करवाया गया वहीं आंगनबाड़ी में 3 से 6 वर्ष के दर्ज समस्त 2700 बच्चों की आंगनबाड़ी बंद होने की वजह से पढ़ाई न रुके, इसके लिए बच्चों को स्लेट, वर्ण माला पुस्तक, पेन, पेंसिल आदि की व्यवस्था करवाकर उन्हें शिक्षा से जुड़े रहने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। सोनहत के एसडीएम प्रशांत कुशवाहा के नेतृत्व में राजस्व अमला महिला बाल विकास विभाग अमला और स्वास्थ्य विभाग के अमले के संयुक्त प्रयास से क्षेत्र वासियों को भारी राहत है और इनकी कार्यशैली दुष्यंत कुमार की पंक्तियों ‘कौन कहता है आसमा में सुराख नही हो सकता एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारो’ को चरितार्थ कर रही है। कोरोना काल में आम जनमानस के बीच समस्याओं के निदान एव मदद व सुविधाएं मुहैया कराने राजस्व विभाग से तहसीलदार अंकिता पटेल आर आई संदीप सिंह, समस्त पटवारी, महिला बाल विकास विभाग से सुपरवाइजर फिलसीता लकड़ा सुषमा एक्का, एवं समस्त सुपरवाइजर, पंचायत विभाग से अजय पाण्डेय, सावित्री सिंह, समस्त सचिवों के अलावा मारुति शर्मा, महेंद्र राजवाड़े पवन शर्मा एवं अन्य कर्मचारियों का सराहनीय योगदान देखा जा रहा है ।

blitz hindiके साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करेअविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here