(बिस्सु)रफीक अंसारी की रिपोर्ट

पटना कोरिया जिले में इस बारिश के दौरान 49 लाख पौधों के रोपण की तैयारी की गई है। इसके लिए कुल 101 कार्यों की प्रशासकीय स्वीकृति जारी करते हुए पौधारोपण कार्य और उसकी सुरक्षा के लिए 6 करोड़ 51 लाख रूपए से ज्यादा राशि स्वीकृत की गई है। इसमें से 20 लाख पौधे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत विभागीय नर्सरियों में तैयार किए गए हैं। साथ ही दोनो वनमंडल से 29 लाख पौधे लगाए जाने की तैयारी है। विभिन्न विभागों के माध्यम से इन पौधों का रोपण जिले में चिंहाकित स्थलों पर कराया जा रहा है। कलेक्टर कोरिया एसएन राठौर ने कहा कि कार्य योजना बनाकर पौधारोपण कार्य समय सीमा में पूर्ण किया जाए तथा इसमें लगाने के साथ ही सुरक्षा की जिम्मेदारी भी संबंधित विभागों की होगी। उन्होने कहा कि प्रत्येक लगाए गए पौधे की सुरक्षा की सर्वोपरि है। श्री राठौर ने कहा कि राम वनगमन मार्ग के 73 किलोमीटर पथ पर सड़कों के दोनों ओर पौधारोपण किया जाएगा। इन पौधों की सुरक्षा के लिए स्थानीय स्तर पर निर्मित बांस के सुरक्षा घेरे लगाकर 45 किलोमीटर तक वनमंडल बैकुण्ठपुर और शेष 27 किलोमीटर भाग मनेन्द्रगढ़ वनमंडल के द्वारा पौधरोपण किया जाएगा। इस मार्ग मे कुल 11 हजार 975 पौधों का रोपण किया जाएगा। कलेक्टर कोरिया एस एन राठौर ने प्रशासकीय स्वीकृति आदेश जारी करते हुए सभी पौधारोपण कार्य जुलाई में पूर्ण करने के निर्देश भी दिए है।

इस बारिश में जिले के अलग अलग क्षेत्रों में पौधारोपण की कार्ययोजना में कई बड़े ब्लाक प्लांटेशन, रोड साइड प्लांटेशन, हितग्राहियों के बाड़ी में पौधों का रोपण और वन विभाग के द्वारा चलाए जा रहे पौधा वितरण का कार्य भी शामिल है। जिले में प्लांटेशन कार्यों के बारे में कलेक्टर श्री राठौर ने बताया कि जिले मे वनमंडल बैकुण्ठपुर और मनेन्द्रगढ़ के द्वारा कार्यस्थलों का चिंहाकन किया गया है। महात्मा गांधी नरेगा तथा वनविभाग के साथ मिलकर जिले के 101 कार्यों का चिंहाकन किया गया है और इनमें 49 लाख से ज्यादा पौधे लगाए जाने की कार्ययोजना है। इसमें 20 लाख पौधे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत विभागों की नर्सरियों में तैयार किए गए हैं और 12 लाख पौधे वनमंडल बैकुण्ठपुर तथा 17 लाख पौधे वनमंडल मनेन्द्रगढ़ के द्वारा उपलब्ध कराए जांएगे।

उद्यान विभाग के द्वारा मनरेगा के तहत नर्सरियों में तैयार किए गए 3 लाख पौधे – जिले में पौधारोपण के लिए स्वीकृत कार्यों के बारे मे विस्तार से जानकारी देते हुए जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी तूलिका प्रजापति ने बताया कि कोरिया जिले में महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत वन मंडल और उद्यान विभाग के माध्यमों से नर्सरी तैयारी का कार्य गत वर्ष काफी मात्रा में स्वीकृत किया गया था। अब सभी नर्सरियों में 20 लाख पौधे रोपण के लिए तैयार हो चुके हैं। जिला पंचायत सीइओ ने आगे बताया कि उद्यान विभाग के द्वारा मनरेगा के तहत नर्सरियों में 3 लाख पौधे तैयार किए गए हैं जो जनपद पंचायतों के समन्वय से ग्राम पंचायतों में विद्यालय परिसर, किसानों के घरों, ब्लाक प्लांटेशन साइट पर लगाए जाएंगे। इसके साथ ही कोसा उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए महात्मा गांधी नरेगा के तहत अर्जुन के पौधों के नर्सरी तैयारी व उन्नयन के 8 कार्य रेशम विभाग को दिए गए थे जिनमें 2 लाख से ज्यादा पौधे तैयार किए गए हैं। रेशम विभाग के द्वारा जिले में 2 लाख 17 हजार पौधों का रोपण रेशम उत्पादन के उद्देश्य से किया जाएगा। तूलिका प्रजापति ने बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र के माध्यम से ब्लाक प्लांटेशन के कुल दो कार्य स्वीकृत किए गए हैं। लगभग 30 लाख रूपए के इन कार्यों मे 1 लाख फलदार पौधों का रोपण किया जाना है। इस तरह कलेक्टर कोरिया के निर्देशानुसार जिले भर में दोनो वनमंडल, उद्यान विभाग, रेशम विभाग और कृषि विज्ञान केंद्र कोरिया के समन्वय से 49 लाख से ज्यादा पौधों के रोपण का कार्य कराया जाएगा। इसके अलावा अन्य विभागों को भी पौधारोपण कार्यों की स्वीकृति प्रदान की गई है जिनमें जल संसाधन विभाग को मनरेगा के तहत 8 स्थानों पर ब्लाक प्लांटेशन कार्य, जनपद पंचायतों द्वारा गौठानों में तथा वनमंडलों को सड़कों के किनारे कुल 145 किलोमीटर लंबाई में पौधारोपण कार्य स्वीकृत किए गए हैं।

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना कोरिया:-9770277040

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here