राजस्थान:-अशोक गहलोत सरकार के लिए आज का दिन बहुत ही महत्व पूर्ण हैं,
गहलोत सरकार पर संकट बरकरार है.
सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट आज अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात कर सकते हैं,

आप को बतादें अगर सचिन पायलट बीजेपी का दामन थामते हैं तो यह राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के लिए बड़ा झटका होगा. दूसरी तरफ सचिन पायलट का दावा है कि उनके साथ 30 विधायकों का समर्थन है. इनमें कांग्रेस और निर्दलीय विधायक शामिल है. ऐसे में विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल होने के कारण गहलोत सरकार अल्पमत में आ जाएगी।

वहीं सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट के साथ 27 कांग्रेस विधायक भी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. इसके अलावा तीन निर्दलीय विधायक भी पायलट को समर्थन दे रहे हैं और वे भी बीजेपी से जुड़ सकते हैं.
सूत्रों के हवाले से ये भी जानकारी आ रही है कि आज होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले विधानसभा अध्यक्ष को सचिन पायलट के समर्थक विधायक अपना इस्तीफा भेज सकते हैं।

एक जानकारी सचिन पायलट को लेकर और आ रही है, कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मुलाकात कर चुके हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया के आवास पर सचिन पायलट उनसे मिलने पहुंचे थे. दोनों नेताओं के बीच करीब 40 मिनट तक चली इस मुलाकात के बाद सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की चर्चा और तेज हो गई हैं,
जो भी है गहलोत सरकार के लिए आज का दिन बहुत ही महत्व पूर्ण हैं, अशोक गहलोत अपनी सरकार बचा लेंगे या पायलट पलटेंगे पासा ये सब आज कुछ घंटो में साफ हो जाएगा।

राजस्थान में बिगड़ते सियासी हालात को देखते हुए कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी ने पार्टी के तीन नेताओं को जयपुर भेजा है. वहीं, सोमवार सुबह 10.30 कांग्रेस विधायक दल की बैठक होनी है. इसी बैठक पर सबकी निगाहें हैं क्योंकि यहीं से गहलोत सरकार का भविष्य तय होना है.

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट शामिल नहीं होंगे. पायलट खेमे की ओर से दावा किया जा रहा है कि उनके समर्थन में 30 विधायक हैं. इधर, गहलोत खेमे ने 109 से अधिक विधायकों के समर्थन का दावा किया है. वहीं, बीजेपी की ओर से कहा जा रहा है कि वो सचिन पायलट के संपर्क में नहीं है. ये कांग्रेस का आंतरिक मामला है.

कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस
जयपुर में मुख्यमंत्री आवास पर प्रेस वार्ता चल रही थी, अविनाश पांडे, रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन प्रेस वार्ता कर रहे थे, अविनाश पांडे ने कहा कि सोनिया गांधी के निर्देशों पर जयपुर आए हैं. 109 विधायक के समर्थन पत्र की चिट्ठी मुख्यमंत्री को दे चुके हैं. कुछ अन्य विधायक भी संपर्क में हैं.

आज विधायक दल की बैठक के लिए कांग्रेस पार्टी ने व्हिप जारी कर दिया है. अगर कोई भी कांग्रेस का विधायक बैठक में नहीं आता है तो उसकी सदस्यता जाएगी. कांग्रेस के प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे ने कहा है कि 109 विधायकों का समर्थन पत्र मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास पहुंच गया है और वे सोमवार सुबह मीटिंग में आएंगे. बाकी लोग अगर नहीं आते हैं तो उनकी सदस्यता चली जाएगी. इस पूरे मामले पर बोलते हुए रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि हम किसी व्यक्ति की बात नहीं कर रहे हैं, हमें नहीं लगता है कि कोई नहीं आएगा।

वहीं सचिन पायलट को लेकर एक बात और सामने आ रही है
सचिन पायलट के एक और साथी प्रशांत बैरवा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने पहुंचे हैं. प्रशांत बैरवा ने कहा कि सचिन पायलट का सम्मान करता हूं, लेकिन अगर वो बीजेपी में जाते हैं तो मैं उनके साथ नहीं जाऊंगा।गौरतलब है ये राजनीति है कुछ भी हो सकता है ये आप सब भी जानते हैं,

blitz hindi
के साथ जुड़े हर समाचार सबसे पहले और सटीक पाने के लिए | विज्ञापन के लिए संपर्क करे
अविनाश चंद्र -8964006304 / 83195220243/रफीक अंसारी पटना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here